Zindagi Ki Haqiqat

जिंदगी की हक़ीक़त सिर्फ इतनी होती है,
जब जागता है इंसान तब किस्मत सोती है,
इंसान जिस पर अपना हक़ खुद से ज़्यादा समझता है,
वो अमानत अक्सर किसी और की होती है…

Comment Please...