«

»

Vyavhar Aur Shabd Sahi Ho

कोई भी व्यक्ति हमारा मित्र या शत्रु
बनकर संसार में नहीं आता..
हमारा व्यवहार और शब्द ही,
लोगो को मित्र और शत्रु बनाते है…