Tanhai Me Rona Shayari

महफील मे हँसना मेरा मिजाज बन गया,
तन्हाई मे रोना एक राज बन गया,
दिल के दर्द को चेहरे से जाहिर ना होने दिया,
यही मेरे जीने का अंदाज बन गया…

Share Dost App
Comment Please...