Tag: Manushya Ka Dimag Hi Sab Kuch Hai

Manushya Ka Dimag Hi Sab Kuch Hai

मनुष्य का दिमाग ही सब कुछ है,
जो वह सोचता है,
वही वह बनता है…