Tag: Kash Meri Jindagi Ka Ant

Meri Kabar Pe Bana Unka Ghar Ho

काश मेरी जिंदगी का अंत कुछ इस कदर हो,
की मेरी कब्र पे बना उनका घर हो,
वो जब जब सोये जमीं पर,
मेरे सीने से लगा उनका सर हो…