Tag: Kab Tak Dekhti Rahu Tumhare Sapne

Ban Jao Mere Apne

कब तक देखती रहूँ तुम्हारे सपने,
हाथ थाम कर बन जाओ मेरे अपने…