Tag: Intezar Rehta Hai Har Shaam Tera

Shayad Aa Jaye Koi Paigam Tera

इंतज़ार रहता है हर शाम तेरा,
रातें कटती है ले ले के नाम तेरा,
मुद्दत से बैठी हूँ ये आस पाले,
शायद अब आ जाये कोई पैगाम तेरा…