Tag: Dostana Kam Se Kam Itna

Dosti Aisi Karo Ki Majhab Bich Me Na Aaye

Dosti Aisi Karo Ki Majhab Bich Me Na Aaye

दोस्ताना कम से कम इतना
बरकरार रखो कि,
मजहब बीच में न आये..
कभी तुम उसे मंदिर तक छोड दो,
कभी वो तुम्हे मस्जिद छोड आये…!!