Tag: Bin Sapno Ke Bhi Kya Koi So Paya Hai

Dosti Apki Dhadkan Hai Is Dil Ki

बिन सपनों के भी क्या कोई सो पाया है,
बिन यादों के भी क्या कोई रो पाया है,
दोस्ती आपकी धड़कन है इस दिल की,
दिल भी कभी धड़कन से अलग हो पाया है…