Tag: Aankhon Ki Gehraayi Ko Samajh Nahi Paate

Apni Dil Ki Baat Kis Tarah Kahe Tumse

आँखों की गहराई को समझ नहीं पाते,
होठ है मगर कुछ हम कह नहीं पाते,
अपनी दिल की बात किस तरह कहे तुमसे,
तुम वही हो जिनके बिना हम रह नहीं पाते…