Tag: राजनीती को समर्पित

Rajniti Ko Samarpit Joke

राजनीती को समर्पित!
एक कहावत है,
पाँचो उंगलिया बराबर नहीं होती..
पर एक सच और है,
खाते समय सब एक हो जाती है…!!!

Share Dost App