Tag: फूल बनकर क्या जीना

Pathhar Banker Jio

फूल बनकर क्या जीना,
मुरझा गए तो
मसलकर फ़ेंक दिए जाओगे..
पत्थर बनकर जिओ,
कभी तराशे गए तो
भगवान कहलाओगे…