Tag: जो कुछ भी मैंने खोया

Kuch Khoya Aur Kuch Paya

जो कुछ भी मैंने खोया,
वह मेरी नादानी है!
और,
जो कुछ भी मैंने पाया,
वह रब की मेहरबानी है!