Shukra Hai Malik Tera

ऐ मेरे मालिक!!!
आशीर्वाद की वर्षा करते रहो!
खाली झोलिया सबकी भरते रहो!
तेरे चरणों में सर को
झुका ही दिया है!
गुनाहो की माफ़ी और
दुखों को दूर करते रहो!!
शुक्र है मालिक तेरा,
शुक्र है, शुक्र है,
सुप्रभात!
आप का दिन शुभ एवं मंगलमय हो!

Comment Please...