«

»

Rab Tumhe Itni Khushiya De

पलभर की भी तन्हाई नसीब न हो,
कोई भी गम तुम्हारे करीब ना हो,
रब तुम्हारी जिंदगी में इतनी खुशियाँ दे,
की तुमसे बढ़कर कोई खुशनसीब ना हो…