Masti Doston Me Hoti Hai Life Me Nahi

मस्ती “दोस्तों” मे होती है “लाइफ” मे नही,
भक्ती “मन” मे होती है “मंदिर” मे नही,
आप भी जान लो, दोस्ती “SMS” करने से बढती है,
“SMS” पढने से नही…

Share Dost App
Comment Please...