Mai Na Rahu To Kal Yaad Aaunga

मैं तो चिराग हूँ
तेरे आशियाने का,
कभी ना कभी तो
बुझ जाऊंगा..
आज शिकायत हैं तुझे
मेरे उजाले से,
कल अँधेरे में
बहुत याद आऊंगा!!

Comment Please...