Kuch Aisa Rishta Ban Gaya Hai Tujhse

तुझसे ही हर सुबह हो मेरी,
तुझसे ही हर शाम,
कुछ ऐसा रिश्ता बन गया है तुझसे,
की हर सासों में सिर्फ तेरा ही नाम…

Comment Please...