Jo Kabhi Mera Hua Hi Nahi

दिल गुमसुम, जुबान खामोश,
ये आँखे आज नम क्यों है,
जो कभी अपना हुआ ही नहीं,
उसे खोने का गम क्यों है…

Share Dost App
Comment Please...