Har Mehfil Royegi Shyari

हर महफ़िल रोएगी, हर दिल भी रोएगा,
जहा डूबेगी मेरी कश्ती, वो साहिल भी रोएगा,
इतना प्यार बिखेर देंगे ज़माने में हम,
की क़त्ल करके मेरा कातिल भी रोएगा…

Comment Please...