Good Night Tanhai Shayari

Tere Bina Kaise Gujrengi Ye Raate

तेरे बिना कैसे गुजरेंगी ये राते,
तन्हाई का गम कैसे सहेंगी ये राते,
बहुत लंबी है घड़िया इंतजार की,
करवट बदल-बदल कर कटेंगी ये राते…
Good Night!