Aaj Kuchh Kami Hai Tere Bagair

आज कुछ कमी है तेरे बगैर,
ना रंग ना रोशनी है तेरे बगैर,
वक़्त अपनी रफ्तार से चल रहा है,
बस धडकन मेरी थमी है तेरे बगैर…

Share Dost App
Comment Please...