Tag Archive: Fark To Apni-Apni Soch Ka Hai

Fark To Apni-Apni Soch Ka Hai

फर्क तो अपनी-अपनी सोच का है,
वरना दोस्ती भी मोहब्बत से कम नहीं होती…